कमर चक्रासन विधि, लाभ तथा सावधानियां (Kamar Chakrasana Benefits, Technique and Precautions in Hindi)

योगाभ्यास द्वारा न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक लाभ भी प्राप्त होता है| योगाभ्यास शारीरिक विकार जैसे मधुमेह, श्वास सम्बन्धी विकार, high-low B.P., कई प्रकार की शारीरिक – पीड़ा (body pain) को कम करने के साथ-साथ मानसिक विकार जैसे तनाव, अवसाद, थकान, चिंता, आदि को कम करने में भी सहायक है|

कमर चक्रासन क्या है (What is Kamar Chakrasana )?

कमर चक्रासन करने के लिए हम कमर के भाग से दाएं-बाएं एक चक्र (wheel) के समान घूमते हैं, इसलिए इसे कमर चक्रासन कहते हैं| कमर चक्रासन बैठ कर किये जाने वाले आसनों में बहुत ही सरल व महत्वपूर्ण आसन है|

Kamar Chakrasana Benefits in Hindi

कमर चक्रासन विधि (Procedure of Kamar Chakrasana in Hindi)

  • Step 1: कमर चक्रासन करने के लिए आसन पर सीधे बैठ जाएँ|
  • Step 2: अपने पैरों में अधिक से अधिक फासला करें|
  • Step 3: दांई भुजा ऊपर तानें व बांई भुजा कमर के पीछे रखें|
  • Step 4: श्वास छोड़ते हुए कमर के भाग से बांई ओर झुकें|
  • Step 5: दाएं हाथ की कलाई बाएं पैर के अंगूठे से आगे व माथा घुटने पर हो|
  • Step 6: श्वास भरते हुए धीरे-धीरे वापिस आएं|
  • Step 7: अब बांई भुजा ऊपर व दांई भुजा कमर के पीछे रखें|
  • Step 8: श्वास छोड़ते हुए बाएं हाथ की कलाई दाएं पैर के अंगूठे से आगे व माथा घुटने पर हो|
  • Step 9: श्वास भरते हुए धीरे-धीरे वापिस आएं|
  • Step 10: इस प्रकार ये एक आवृति हुई| अपने समर्थ्य के अनुसार कई आवृतियाँ की जा सकती हैं|
  • Step 11: अब पैरों में फासला कम करें व विश्राम करें|

कमर चक्रासन (kamar chakrasana) करने की सही विधि की पूरी जानकारी आप मेरे इस youtube link पर भी देख सकते हैं|

कमर चक्रासन लाभ (Kamar Chakrasana Benefits in Hindi)

कमर लचीली बनती है: कमर चक्रासन करते समय जब हम कमर के भाग से दाएं व बाएं घूमते हैं तो कमर व रीढ़ प्रभाव में आती हैं| इसलिए इस आसन के करने से कमर व रीढ़ लचीली बनती हैं|

चर्बी कम होती है: कमर चक्रासन का अभ्यास करते समय जब हम आगे की ओर झुकते हैं तो पेट व hips की मांसपेशियां प्रभावित होने से पेट व hips की चर्बी कम होती है|

साइटिका के दोष दूर: कमर चक्रासन करने से hips की मांसपेशियों में खिंचाव आता है जिससे साइटिका के दोष दूर होते हैं|

कमर चक्रासन किन-किन के लिए वर्जित है (For whom Kamar Chakrasana Prohibited)?

  • जिन्हें कमर के निचले भाग में दर्द हो या slip-disc की समस्या हो तो उन्हें यह आसन नहीं करना चाहिए|
  • बाकी सभी सामान्य स्वास्थ्य वाले युवा व वृद्ध इस आसन को कर सकते हैं|
Babita Gupta

I am Babita Gupta M.A.(Psychology), M.Phil. (Education) want to share my knowledge and experiences which I have gained over the years. As an Educationist and Counsellor, I am dedicated to release the stress.

Leave a Comment

Copy link