कोरोना से तनाव के लक्ष्ण और उपचार

आज के इस दौर में कोरोना ने लोगों के तनाव को बहुत बढ़ा दिया है| covid-19 ने ना केवल हमारे देश भारत में बल्कि पूरे विश्व में अपना बुरा प्रभाव डाला है| लोग तनाव, चिंता, भय, परेशानी, अवसाद जैसी समस्याओं से ग्रस्त हो रहे हैं| सभी घर बैठने पर मजबूर हैं| घर रह कर ही job, पढ़ाई, या अन्य प्रकार के काम किये जा रहे हैं| इस प्रकार बच्चे, बूढ़े, जवान सभी कंप्यूटर या मोबाइल पर व्यस्त हैं| इस से मेंटल एक्टिविटी ज्यादा तथा फिजिकल एक्टिविटी कम हो रही है| लोग शारीरिक व मानसिक रूप से परेशानियों से घिरते जा रहे हैं|

घर में रहकर बंदिशें महसूस हो रही हैं और बाहर जाने पर मास्क की बंदिश का सामना करना पड़ रहा है| इस प्रकार व्यक्ति कहीं भी संतुष्ट नही है| इस कारण उस के मन में चिड़चिड़ापन आ रहा है जिससे मस्तिष्क पर असर पड़ रहा है| व्यक्तियों में चिंता व तनाव बढ़ रहा है|

इसके विपरीत कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो इस बंदिश के विपरीत घर पर समय बिता पा रहे हैं| उन्हें परिवार के साथ समय बिताना अच्छा लग रहा है| उन्हें पूरे परिवार का इकट्ठे रहना ही खुशियां दे रहा है|

कोरोना महामारी का प्रभाव हर व्यक्ति पर पड़ा है| किसी की नौकरी चली गई, तो किसी का काम बंद हो गया| बच्चों की पढ़ाई रुक गई, तो किसी के admission पर प्रभाव पड़ा|

जो लोग पहले से किसी बीमारी के शिकार हैं, उन पर कोरोना का प्रभाव ओर अधिक पड़ रहा है| उन का तनाव डिप्रेशन का रूप ले रहा है|

कोरोना का खतरा इतनी जल्दी खत्म होने वाला नहीं है इसलिए सावधानी बरतें और सुरक्षित रहें| कोरोना से बचाव के लिए मास्क का प्रयोग करें, दूसरों से दूरी बना कर रखें, बार-बार हाथ धोएं, किसी समारोह या भीड़ वाली जगह पर न जाएँ| संक्रमित व्यक्ति के निकट आने पर अच्छी तरह नहायें| कोरोना से बचें, तनाव को अपने से दूर रखें तथा जिंदगी का आनंद लें|

Stress due to Covid-19 in Hindi

कोरोना काल में तनाव के लक्ष्ण

  • काम का दबाव
  • काम में ध्यान न लगना
  • कुछ करने का मन न करना
  • प्रोफेसनल लाइफ में असामंजस्य होना
  • नींद की कमी
  • चिड़चिड़ापन
  • चिंतित रहना
  • भूख कम लगना
  • गुस्सा
  • आराम की कमी
  • मानसिक परेशानी
  • पेट खराब होना

कोरोना काल में तनाव का उपचार

ऑनलाइन जरूरी कार्य ही करें इस महामारी के दौर में सारा काम ऑनलाइन ही हो रहा है| सभी लोग computer व mobile पर व्यस्त हैं| इसलिए अन्य किसी काम के लिए इनसे दूरी बना कर रखें| इससे घर के जरूरी कामों के लिए समय बचेगा तथा परिवार को भी समय दे सकेंगे| इससे प्रोफेसनल लाइफ में तथा परिवार के बीच सामंजस्य करना आसन हो जायेगा|

ध्यान न भटकायें ज्यादातर लोग काम करते समय ध्यान भटकने से परेशान हैं| उनको इस माहौल में काम करते हुए फोकस करने में मुश्किल हो रही है| हमें अपने ध्यान पर विचार करने की आवश्यकता है| हमारा ध्यान कब, क्यों व कैसे भटकता है इस पर विचार करें| कौन सा ऐसा समय है जब हम पूरा ध्यान लगा कर अपना काम कर पाते हैं| उसी समय के अनुसार अपने काम को करें|

संघर्ष करें कोरोना महामारी ने लोगों की नौकरी छीन ली| कुछ लोग जो परिवार से दूर विदेशों में बैठे हैं, उन को दोहरी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है| आज नौकरीपेशा वर्ग को मशीनों का मुकाबला करने के लिए अपने skill को develop करने की जरूरत है| कर्मचारियों को उन का कौशल ही आगे बढ़ाएगा| संघर्ष करें व तनाव से दूर रहें|

सकारात्मक सोचें अगर हम स्वस्थ रहना चाहते हैं तो हमें अपनी सोच को बदलना होगा अर्थात हमें सकारात्मक सोचना होगा| सकारात्मक सोच निरंतर अभ्यास से आती है| अशांत मन में कभी सकारात्मक विचार नहीं आते| इसलिए शांत रहें और अपने अंदर शांति तलाशें| शांति से ही ताकत मिलती है| मन में हमेशा अच्छे विचारों को जगह दें ताकि दिमाग में positive तरंगें बनी रहें| यह जीवन को सुख से भर देती हैं| वही काम करें जो हमें खुशी दे इससे तनावमुक्त होने में सहायता मिलती है|

पौष्टिक आहार लें स्वस्थ शरीर में ही स्वस्थ मन का निवास होता है| पौषण से भरपूर भोजन लें| पौष्टिक भोजन से शरीर को ऊर्जा मिलती है| इस कोरोना महामारी के समय सभी को घर से काम करना पड़ रहा है| घर बैठे-बैठे खाना हजम नहीं हो पाता| इसलिए अपने भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कुछ कम लें और विटामिन, प्रोटीन, कैल्शियम, मिनरल्स व पोटाशियम का सेवन करें| पौष्टिक भोजन से शरीर स्वस्थ रहेगा, पाचन ठीक रहेगा, बीमारियाँ दूर रहेंगी, मन प्रसन्न रहेगा तथा तनाव भी दूर होगा|

अपनों के संपर्क में रहें अपने परिवार व मित्रों के संपर्क में रहें| दोस्ती सबसे बड़ा वरदान है| एकदूसरे के साथ खुशियाँ बांटे | खुशियाँ बाँटने में ही सुख मिलता है| छोटी छोटी चीजों में भी खुशी की तलाश करें|

योग करें अच्छी सेहत ही सच्ची खुशी दे सकती है जो केवल योग द्वारा सम्भव है| इस समय बाहर जाना बंद हो गया है| इससे शरीर सुस्त हो गया है| इसलिए इम्युनिटी बढ़ाने के लिए घर पर ही 30-45 मिनट योग करें| कोरोना से बचाव में गहरी लम्बी श्वास लेने के व्यायाम करें| प्राणायाम करने से ऊर्जा जाग्रित होती है| योग व्यक्ति को केवल स्वस्थ ही नहीं बनाता बल्कि शारीरिक व मानसिक रूप से फिट भी बनाता है|

हंसी आसन करें एक हंसी हजारों तनाव को दूर कर देती है| अब कोरोना के बाद हर ओर उदासी व तनाव का माहोल है| हम सब मिलकर इस तनाव को भगा सकते हैं| सब हंसी योग करें| खुल कर हंसे व तनाव को दूर करें|

खाली न रहें खाली न बैठें| कुछ न कुछ करते रहने से दिमाग व्यस्त रहेगा तो गलत विचार मन में नहीं आयेंगे| अपना time-table स्वयं बनाएं व उस का सकताई से पालन करें| हर काम का समय निश्चित होने पर काम में मन भी लगेगा व तनाव भी नहीं होगा|

भरपूर नींद लें स्वस्थ शरीर व स्वस्थ मस्तिष्क के लिए भरपूर नींद बहुत जरूरी है| नींद पूरी करने के लिए समय पर सोएं व समय पर उठें|

नशीले पदार्थो का सेवन न करें कई बार हम तनाव के कारण शराब या अन्य नशीले पदार्थो का सेवन करने लगते हैं| ये क्षणभर के लिए तनाव को कम कर सकते हैं, लेकिन बाद में तनाव को ओर बढ़ा सकते हैं| इससे नशा करने की लत भी पड़ सकती है| नशा हमारे स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डालता है| इसलिए नशीले पदार्थो का सेवन न करें|

Babita Gupta

I am Babita Gupta M.A.(Psychology), M.Phil. (Education) want to share my knowledge and experiences which I have gained over the years. As an Educationist and Counsellor, I am dedicated to release the stress.

Leave a Comment

Copy link